Paperback ò Zindagi 50-50 PDF Ê

Zindagi 50-50 [Read] ➭ Zindagi 50-50 By Bhagwant Anmol – Natus-physiotherapy.co.uk भावनाएं जरूरते महत्वाकांक्षाएं ये सब एक स्त्री की लेकिन शरीर पुरुष का एक बे भावनाएं जरूरते महत्वाकांक्षाएं ये सब एक स्त्री की लेकिन शरीर पुरुष का एक बेहद दर्दनाक परिस्थिति जिसमे ज़िन्दगी ज़िन्दगी नहीं समझौता बनकर रह जाती है ऐसे इंसान और उसके घरवालो को हर मकाम पर समाज के दुर्व्यवहार और जिल्लत का सामना करना पड़ता है अनमोल इस बात को अच्छी तरह समझता है क्योंकि उसकी अपनी एकमात्र संतान और छोटा भाई दोनों की यही वास्तविकता है दोनों किन्नर है भाई को पल पल पिसते घर और बाहर प्रताड़ित और अपमानित होते हुए देख अनमोल यह दृढ निश्चय करता है कि वह अपने बेटे को अधूरी ज़िन्दगी नहीं बल्कि भरपूर ज़िन्दगी जीने के लिए हर तरह से सक्षम बनाएगा लेकिन क्या वह ऐसा कर पाता हैपढ़िए इस उपन्यास में.


3 thoughts on “Zindagi 50-50

  1. Navi Navi says:

    Story line and the concept are well thought of Entertainment uotient is fine tooOld Bollywood style end of 80s implausible unconvincing and dramatic Also the conclusion could be written better I took off one whole star ⭐️ because of the ending last 12%


  2. Monika Sharma Monika Sharma says:

    पुस्तक समीक्षा ज़िंदगी 50 50लेखक भगवंत अनमोल बस नींद नहीं आ रही थी इसलिए रात को 10 बजे सोचा लाओ लेखक भगवंत अनमोल जी का चर्चित उपन्यास 'जिंदगी 50 50' शुरू कर लूँ। शुरू करने की ही देर थी मैं खुद को रोक ही नहीं पाई और सुबह 8 बजे उस 208 पृष्ठ की किताब का आखरी पन्ना पलट कर ही उसे रख पाई। अब अगर एक उपन्यास आपको इस तरह बांधने की ताकत रखता हो उसके लिए कुछ और कहना रवि को दीपक दिखाना होगा। एक साथ तीन कहानियों को कहते जाना बारी बारी से और आखिर में उन कहानियों को जोड़ देना एक बना देना। यह एक ऐसा तरीका है जो मुझे बेहद भाता है। इससे उपन्यास कहने वाले उपन्यासकार का कहानी कहने का तरीका बहुत ही खूबसूरत हो जाता है। थर्ड जेंडर के लोगों की जिंदगी में आने वाली परेशानियों और समस्याओं और लोगों के उनके प्रति नजरिए को बखूबी बयान करता है उपन्यास 'जिंदगी 50 50'। भगवंत अनमोल जी का यह उपन्यास आप जब शुरू करेंगे तो रुक ही नहीं पाएंगे। खूबसूरत उपन्यास के लिए भगवंत अनमोल जी को बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं। उनकी लेखनी ऐसे ही हमारे लिए बेहतरीन कहानियां रचती रहे।Dr Monika Sharma#monikasharma#bookreview


  3. Shreshtha Singh Shreshtha Singh says:

    OutstandingHiI recommend to all to read this book Very Nive bookyou will not be bore #Anaya# AnmolAnaya character very nice You can learn about love by anaya character


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *